Our Location
10, Queens Road,Rathore Nagar, Vaishali Nagar, Jaipur, Rajasthan, India 302021

Call Us
(+91) 141 2356122
(+91) 9166 300 200

10 Hindi Foreplay Tips to Improve Sex Life

सेक्स लाइफ को फोरप्ले के ज़रिए बेहतर बनाने के लिए 10 टिप्स

फोरप्ले हाईवे पर कार चलाने जैसा है। पहले गियर से टॉप गियर में धीरे-धीरे जाने में सफ़र का अलग ही मज़ा है। यह लव मेकिंग जैसा ही है। आम तौर पर, ज़्यादातर समय, हमारा शरीर संभोग के लिए तैयार नहीं होता है।संभोग के लिए और पूरी तरह सेआनंद पाने के लिएमनोवैज्ञानिक और शारीरिक परिवर्तन होना ज़रूरी है। लेकिन, इसके शरीर को तैयार करना पड़ता है।

आम तौर पर, इंटरनेट ऐसे सुझावों से भरा होता है जिनसे आपको महिला के शरीर के बारे में जानकारी मिलती हैं,ख़ास तौर परक्लिटोरिस और जी-स्पॉट। इसमें कोई संदेह नहीं है कि ये बहुत संवेदनशील अंग हैं,लेकिन शरीर के इन भागोंतक खुद को सीमित करने से सेक्स से भरपूर आनंद नहीं मिलेगा। यहाँ फोरप्ले के लिए कुछ सुझाव दिए जा रहे हैं जिनसे भरपूरसेक्स का मज़ा लिया जा सके।

1. याद रखें कि मानव शरीर में सबसे बड़ा सेक्स ऑर्गनहमारा मस्तिष्क है। महिलाओं मेंकामेच्छाको बढ़ाने के लिए उनके मस्तिष्क केंद्रों में सही तरह की उत्तेजनाएं उत्पन्नहोना ज़रूरी है।

2. किसी महिला में उत्तेजना पैदा करनेका सबसे अच्छा माध्यम उसका शरीर है।किसी ऐसे व्यक्ति का प्यार भरा स्पर्शजिसे वह प्यार करती है, जिस पर भरोसा करती है और उसका सम्मान करती है, महिला में कामेच्छा पैदा करता है। इसलिए, सीधे क्लिटोरिस और जी-स्पॉट तक न पहुंचें। आपको महिला को संभोग के लिए तैयार करने के लिए उसके शरीर केज़्यादातर हिस्सों को छूना होगा।

3. आपको उसके शरीर को वहाँ छूना चाहिए जहाँ वह सबसे ज़्यादा पसंद करती है। आपका स्पर्श, कोमल और कामुक होना चाहिए, भले ही आप धीरे-धीरे आगे बढ़ें और बाद में रफ़्तार पकड़ लें।दरअसलहरेक महिला की स्पर्श को लेकरकुछ ख़ास पसंद होती हैं,हो सकता है वह किसी अन्य प्रकार के स्पर्श को पसंद न करे।

4. क्लिटोरिस को सीधे न छुएं। ऐसा करने से दर्द भी हो सकता है क्योंकि यह बहुत संवेदनशील हिस्सा है। आपको अपनी उंगलियों को क्लिटोरिस वालेहिस्से के ऊपर घुमाना चाहिए और इसे लगातार स्पर्श करते रहना चाहिए।साथ ही,आपको यह भीपक्का करना होगा कि क्लिटोरिस वाला हिस्सा चिकना (लुब्रीकेटेड)हो। आप सीधे अपनी जीभ या उंगलियों के इस्तेमाल सेइस पर अपनी लार भीलगा सकते हैं। यह महिलाओं की पसंद के अनुसार होनी चाहिए।

5. कई बारहोने वाली उत्तेजना सबसे अच्छी साबित होती है। आप एक हाथ से ब्रेस्ट और दूसरे हाथ से वल्वा या क्लिटोरिस को उत्तेजित कर सकते हैं। इसका मतलब है कि आपको एक समय में शरीर के एक से ज़्यादा हिस्सों को उत्तेजित करने का प्रयास करना चाहिए, लेकिन यह कोमलता से होना चाहिए।

6. उसेकिसी भी ऐसी गतिविधि के लिए मजबूर न करें जो उसे पसंद नहीं है। कुछ महिलाओं को ओरल सेक्स या योनि मार्ग से किया जाने वाला सेक्स पसंद नहीं हो सकता है। उनकी अनुमति के साथ उसके शरीर को छूना ही सबसे बढ़िया रहता है।

7. आपको विभिन्न प्रकार के स्पर्श आज़मा कर देखनेचाहिएं। एक ही तरह के स्पर्श को बार-बार करने से उत्तेजना में कमी आएगी और हो सकता है महिला आपके स्पर्श सेपहले जैसी प्रतिक्रिया न दे।

8. अपना लिंग उसकी योनि में डालने की जल्दी न करें। जब वह तैयार हो जाए तभी ऐसा करें। वह सीधे या किसी और तरीके से अपने तैयारहोने काइशारा दे सकती है। सभीजोड़े अपने-अपने तरीके तय करते हैंजिनसे महिला साथी के तैयार होने का पता चले।

9. याद रखें कि अलग-अलग समय में एक ही प्रकार के स्पर्श के लिए अलग प्रतिक्रिया हो सकती है। अगर अंतिम समय में प्रतिक्रिया उतनी ज़्यादा न हो तो निराश न हों,क्योंकि यह उसकी मनोदशा और शारीरिक स्थिति पर बहुत निर्भर करता है। थकान और खराब मूड के कारण खराब प्रतिक्रिया होगी।

10. सेक्स के लिए कोई लक्ष्य निर्धारित न करें। अधिकांश जोड़ों का मानना है कि अगर पुरुष एक सक्षम प्रेमीहै तोमहिला को चरमसुख प्राप्त होगा ही। यह सीधी बात है। आम तौर पर 20या25% से अधिक महिलाओं को कोई चरमसुखहासिल नहीं होता है और ज़्यादातर महिलाओं को हस्तमैथुन का कोई अनुभव न होने की वजह सेवे यह नहीं जान पाती हैं कि चरमसुख क्या होता है। उद्देश्य यह होना चाहिए कि सेक्स के साथ एक सुखद आनंददायक अनुभव हो।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *