Our Location
10, Queens Road,Rathore Nagar, Vaishali Nagar, Jaipur, Rajasthan, India 302021

Call Us
(+91) 141 2356122
(+91) 9166 300 200

What causes female orgasmic disorder (FOD)

फीमेल ऑर्गैस्मिक डिसऑर्डर (एफओडी) का क्या कारण है?
 

आईएसएसएम संचार समिति के चिकित्सा पेशेवरों द्वारा समीक्षित

शारीरिक और मनोवैज्ञानिक दोनों कारक महिला ऑर्गैस्मिक डिसऑर्डर में योगदान कर सकते हैं।ओर्गास्म या चरमोत्कर्ष कैसे महसूस होता है या इस अवस्था तक आने में कितना समय लगता है, यह व्यापक रूप से प्रत्येक महिला में भिन्न हो सकता है। जब किसी को ओर्गास्म संबंधी समस्या होती है, तो चरमोत्कर्ष तक पहुंचने में लंबा समय लग सकता है। महिला ऑर्गैस्मिक डिसऑर्डर के निम्न कारण हो सकते हैं:

चिकित्सकीय स्थितियां: मधुमेह, वैस्कुलर रोग, मल्टीपल स्केलेरोसिस, रीढ़ की हड्डी में चोट और कुछ पैल्विक स्थितियां एक महिला की ओर्गास्म तक पहुंचने की क्षमता में हस्तक्षेप कर सकती हैं। एफओडीको गठिया, थायराइड की समस्या और अस्थमा से भी जोड़ा गया है।

दवाइयां: एंटीडिप्रेसेंट्स [विशेष रूप से सेरोटोनिन रयूपटेक इनहिबिटर (एसएसआरआई)], एंटीसाइकोटिक्स और कैंसर, उच्च रक्तचाप और हृदय रोग के लिए ली जाने वाली दवाइयों से यौन दुष्प्रभाव हो सकते हैं जो संभोग क्रिया को प्रभावित करते हैं।

यौन अनुभवहीनता: कुछ महिलाओं ने यह सीखा ही नहीं कि किस प्रकार की उत्तेजना उन्हें ओर्गास्म तक ले जाती है। या हो सकता है कि वे यह नहीं जानती हों कि अपने साथी से इस बारे में कैसे बात करें कि उन्हें किससे आनंद मिलता है।

सेक्स के बारे में आपराधिक भावनाएं: हो सकता है कि महिलाओं को यह विश्वास दिलाया गया हो कि उन्हें सेक्स का आनंद नहीं लेना चाहिए, इसलिए वे इस क्रिया में शामिल होने के लिए खुद को दोषी या "गलत" महसूस करती हैं।

चिंता और अवसाद: एक महिला सेक्स के बारे में इतनी चिंतित महसूस कर सकती है कि वह ओर्गास्म करने के लिए पर्याप्त शिथिल महसूस करने में असमर्थ होती है। या वह नकारात्मक घटनाओं पर इतना अधिक ध्यान केंद्रित करती है कि वह उस "पल में" होने और उत्तेजना का आनंद लेने में असमर्थ होती है। कुछ महिलाओं के लिए, शरीर की खराब छवि चिंता का कारण बन जाती है। कुछ महिलाओं को संभोग के दौरान आत्म नियंत्रण खोने का डर होता है।

रिश्तों से सम्बंधित समस्याएँ: अपने साथी के साथ मतभेद एक महिला की संभोग सुख तक पहुंचने की संभावना को कम कर सकता है। यह रिश्ते में यौन समस्याएँ, सामान्य संबंध समस्याएँ, क्रोध, अविश्वास या संवाद करने में असमर्थता के कारण भी हो सकता है।

अतीत में हुआ दुर्व्यवहार: जिन महिलाओं का शारीरिक, मानसिक या यौन शोषण हुआ है, उन्हें अक्सर संभोग सुख की समस्या होती है।

यदि आपको लगता है कि आपको ओर्गास्म संबंधी समस्या है, तो आपको अपने डॉक्टर से अवश्य मिलना चाहिए। आपका डॉक्टर आपकी स्थिति का निदान करने और उचित उपचार योजना प्रदान करने में आपकी सहायता करेगा। अपने चिकित्सक से परामर्श लेने से यह सुनिश्चित किया जा सकता है कि आप फिर से यौन क्रिया का पूरी तरह से आनंद ले सकें।

जांच के दौरानआपका डॉक्टर आपके यौन इतिहास के बारे में प्रश्न पूछेगा और एक शारीरिक परीक्षण भी करेगा। आपकी प्रतिक्रियाएं और परीक्षा परिणाम संभोग संबंधी समस्याओं के किसी भी अंतर्निहित कारणों को प्रकट करेंगी और अन्य कारकों की पहचान करने में भी मदद होगी।आपका डॉक्टर आपको पूर्ण रूप से जांच हेतु स्त्री रोग विशेषज्ञ के पास भेज सकता है जो संभोग रोग के लिए उपचार की सिफारिश कर सकता है।

अगर पति पत्नी के आपसी रिश्तों में समस्या है तो काउंसलिंग भी एक उपचार विकल्प हो सकता है जो अत्यंत लोकप्रिय है। एक काउंसलर आपको और आपके साथी को किसी भी असहमति या संघर्ष के दौरान भी साथ काम करने में मदद करेगा। यह परामर्श रिश्तों मे और बेडरूम में हो रहे सभी मुद्दों को हल करने में मदद कर सकता है।

संभोग करने में असमर्थता निराशाजनक हो सकती है और आपके रिश्ते पर असर डाल सकती है। हालाँकि, आप उचित उपचार के साथ चरमोत्कर्ष तक पहुँचने में सक्षम हो सकते हैं।

यदि आप को लगता है कि कोई सेक्स समस्या है तो आप विवान हॉस्पिटल में अपॉइंटमेंट् ले सकते है। हर मरीज़ की व्यक्तिगत जानकारी पूरी तरह गुप्त रखी जाती है । यह एक अत्याधुनिक हॉस्पिटल है जो सेक्शूअल हेल्थ को समर्पित है। हमारे यहाँ अनुभवी सेक्सोलॉजिस्ट की टीम है। यहाँ जयपुर का बेस्ट सेक्सोलॉजिस्ट हॉस्पिटल है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *